बैंक लूटने आए 18 साल के 3 लड़के; मैनेजर की कनपटी से पिस्टल लगाकर बोले- कैश निकालो नहीं तो गोली मार देंगे

हिसार । आदमपुर खण्ड के गांव भाणा में दिनदहाड़े बैंक में डकैती प्रयास की घटना हुई है। पिस्टल का फायर मिस हुआ तो बैंक मैनेजर की जान बच गई और डकैती भी नहीं हो पाई। ग्रामीणों ने हिम्मत करके 2 नकाबपोशों को पकड़ लिया जबकि एक भाग गया। एक आरोपी गांव बुगाणा का अमन, दूसरा गांव साबरवास का सुनील उर्फ सन्नी है। दोनों ही आरोपियों की उम्र सिर्फ 18 साल है। तीसरा आरोपी जो भाग गया है वह मनदीप बताया जा रहा है और वह भी 18 ही साल का है। फिलहाल मामले में आदमपुर पुलिस जांच कर रही है।

खाता खुलवाने की बोलकर बैंक में घुसे थे डकैत

बैंक मैनेजर हनुमान बिश्नोई के अनुसार दोपहर के एक बजे के करीब तीन लड़के मुंह ढककर बैंक में आये और उन्होंने बैंक कैशियर रवि से खाता खुलवाने के बारे में पूछा। पूरी जानकारी लेने के बाद तीनों लड़के वहां से चले गए। इसके एक मिनट बाद ही वह तीनों दोबारा बैंक में आये और इस बार इनमें से एक लड़का हाथ में पिस्टल लिए हुए था। लड़के ने बैंक में आते ही पिस्टल मैनेजर हनुमान बिश्नोई की कनपटी पर लगाकर सारा कैश निकालने के लिए कहा। जब बैंक मैनेजर ने कैश नहीं निकाला तो दो अन्य युवकों ने अपने साथी से कहा मैनेजर को गोली मार दे।

जब पिस्टल लिए हुए युवक ने गोली चलाने की कोशिश की तो वह मिस फायर हो गई और गोली नहीं चली। मौका देखकर बैंक मैनेजर ने शोर मचाना शुरू कर दिया। यह सब देखकर तीनों आरोपी वहां से भाग खड़े हुए। बैंक में हुई घटना को देखकर गांववालों ने डकैतों का पीछा करना शुरू कर दिया और उनको एक खेत में घेर लिया, जबकि उनका तीसरा साथी खेतों में से होकर भाग गया। आदमपुर पुलिस टीम ने मौके पर जाकर 2 आरोपियों को कपास की फसल में ढूंढकर काबू कर लिया। फिलहाल मामले में आदमपुर पुलिस जांच कर रही है।

आदमपुर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप श्योराण ने बताया कि आरोपियों से एक अवैध लोडिड पिस्टल बरामद कर ली है। आरोपी पहले भी बरवाला एरिया में गाड़ी लूट व राजली में लूट की वारदात को अंजाम दे चुके हैं।