भाजपा के किस वरिष्ठ मंत्री ने कहा, सभी मुख्यमंत्री दुखी हैं…क्या पता कब हटना पड़े, पूरा बयान सुनने के लिए वीडियो देखें

नई दिल्ली / जयपुर ।

भारतीय जनता पार्टी इन दिनों भारत की सत्ता पर काबिज है। इसके अलावा अधिकतर राज्यों में भी भाजपा की ही सरकार है। ऐसे में भाजपा के कई ऐसे नेता है जो कि काफी चर्चा में रहते हैं। एक ऐसे ही नेता का आज हम जिक्र करते हैं जिनका नाम है नितिन गडकरी। नितिन गडकरी भाजपा के काफी पुराने और सीनियर नेता हैं और इन दिनों वह केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री का कार्यभार संभाल रहे हैं। नितिन गडकरी में किसी बात को कहने की बड़ी अच्छी कला है। किसी भी बात को वह काफी अच्छे और अलग ढंग से पेश कर जाते हैं। इसके अलावा गडकरी का स्वभाव भी काफी हंसमुख है। इधर, नितिन गडकरी अपने एक ताजे बयान से इस समय लोगों के बीच काफी सुर्खियां बटोर रहे हैं।

दरअसल, मौका था राजस्थान विधानसभा में एक कार्यक्रम का, जिसमें नितिन गडकरी शामिल थे। इस बीच जब नितिन गडकरी कुछ बोलने के लिए खड़े हुए तो हंसते-मुस्कराते ‘दुखी मुद्दे’ पर उन्होंने अपनी बात रखनी शुरू कर दी। गडकरी ने कहा कि समस्या सबके सामने है, पार्टी में समस्या है, पार्टी के बाहर समस्या है, निर्वाचन क्षेत्र में समस्या है, परिवार में समस्या है, अगल-बगल समस्या है, किसी को आगे ले जाओ, तो वो बोलता है कि इसको टिकट दे दो, अगले को हटा दो, सब समस्या है, समस्या किसके सामने नहीं है।

गडकरी ने आगे कहा कि विधायक से लेके मुख्यमंत्री तक सब दुखी हैं… गडकरी बोले- विधायक इसलिए दुखी हैं, क्योंकि वो मंत्री नहीं बन पाए| मंत्री इसलिए दुखी हैं, क्योंकि उन्हें अच्छा विभाग नहीं मिला। अच्छे विभाग वाले इसलिए दुखी हैं, क्योंकि वो मुख्यमंत्री नहीं बन पाए. जो मुख्यमंत्री बन पाए वो इसलिए दुखी हैं, क्योंकि कब तक रहेंगे और कब हट जायेंगे, इसका भरोसा नहीं है।

कवि शरद जोशी की कविता सुनाई….

गडकरी ने कहा कि कवि शरद जोशी ने एक बार लिखा था कि ”जो लोग राज्यों के लिए उपयुक्त नहीं, उन्हें दिल्ली भेज दिया गया था और जो दिल्ली के लिए उपयुक्त नहीं, उन्हें राज्यपाल बनाया गया, जो राज्यपाल के रूप में उपयुक्त नहीं, उन्हें राजदूत बनाया गया”।

खास बात ये है कि नितिन गडकरी का ये बयान तब आया है, जब गुजरात (Gujarat) में सीएम को बदल दिया गया है। बीजेपी ने विजय रुपाणी को मुख्यमंत्री पद से हटाकर भूपेंद्र पटेल मुख्यमंत्री बनाया है। कहा जा रहा है कि गडकरी ने इशारों-इशारों में बीजेपी पर तंज कसा है।

गडकरी की बात का यह अर्थ भी …..

गडकरी ने जो कहा कि उसका अर्थ यह भी है कि जो भी अपनी स्थिति को लेकर नाराज या असंतुष्ट हैं। वह ऐसा न करें। कोई और क्षेत्र हो या राजनीति…..जिसे जो पद, काम या मकाम मिले वह उसमें खुश रहने की कोशिश करे।

लगातार मुख्यमंत्रियों को बदल रही है भाजपा …..

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा हाल ही के दिनों में कई मुख्यमंत्रियों को अचानक बदल दिया गया है। पहले उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत की जगह तीरथ सिंह रावत को लाया गया, बाद में उन्हें भी बदलकर पुष्कर सिंह धामी को लाया गया। इसके अलावा कर्नाटक में भी सीएम को बदला गया।

वीडियो यहां देखें