‘लवर’ से बने पति पत्नी और फिर क्राइम पार्टनर, ठगे 20 करोड़

गाजियाबाद ।

युवक और युवती में दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में पढ़ाई के दौरान प्यार हुआ और फिर शादी कर हनीट्रैप गैंग बना लिया। तीन साल में 500 लोगों को ब्लैकमेल कर करीब 20 करोड़ रुपये ठगने वाले इस गैंग का खुलासा करते हुए साइबर सेल ने दंपती समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि नंदग्राम के मरियम नगर घूकना निवासी योगेश गौतम और उसकी पत्नी सपना राजनगर एक्सटेंशन की ऑफिसर सिटी सोसाइटी में किराए के फ्लैट में ठगी का धंधा चला रहे थे। एसपी सिटी ने बताया कि गैग संचालक दंपती के अलावा सिहानी गेट के जटवाड़ा सिहानी गेट निवासी निकिता, नगर कोतवाली के जस्सीपुरा निवासी निधी और प्रेमनगर निवासी प्रिया को गिरफ्तार किया गया है। यह तीनों युवतियां लोगों को अश्लील वीडियो कॉल करती थीं। स्क्रीन रिकॉर्डर एप से वीडियो कॉल रिकॉर्ड करके उसे वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करती थीं। आरोपी पति-पत्नी तीनों लड़कियों को नौकरी पर रखकर हनीट्रैप गैंग चला रहे थे। इसकी एवज में उन्हें हर महीने 25-25 हजार रुपये सैलरी दी जाती थी।

पहले पत्नी करती थी ब्लैकमेल फिर पति धंधे से जुड़ा
साइबर सेल के नोडल अधिकारी अभय कुमार मिश्र ने बताया कि करीब पांच साल पहले डीयू में स्नातक प्रथम वर्ष की पढ़ाई के दौरान सपना और योगेश की मुलाकात हुई थी। दोनों में पहले दोस्ती और फिर प्यार हुआ। प्रथम वर्ष में ही दोनों ने पढ़ाई छोड़ दी और तीन साल पहले दोनों ने शादी कर ली। शादी के बाद सपना नौकरी के बहाने नोएडा जाती थी। वहां उसने फ्लैट ले रखा था। वह लोगों को अश्लील कॉल कर उन्हें ब्लैकमेल करती थी। योगेश को इस बारे में कुछ पता नहीं था, लेकिन सपना के पास मोटी रकम इकट्ठा होने के बारे में पूछने पर उसने सच उगल दिया। मोटी कमाई के लालच में योगेश भी ब्लैकमेलिंग के धंधे में सक्रिय हो गया।

गुजरात के अकाउंटेंट से 80 लाख ठगने पर ट्रेस हुआ गैंग
गुजरात के राजकोट में एक कंपनी के मालिक ने अपने अकाउंटेंट पर 90 लाख के गबन का केस दर्ज कराया था। गुजरात पुलिस की जांच में सामने आया कि रकम गाजियाबाद के बैंक खातों में ट्रांसफर हुई है।अकाउंटेंट ने पुलिस को बताया कि हनीट्रैप गैंग ने उसकी अश्लील वीडियो रिकॉर्ड कर ली थी। उसे वायरल करने की धमकी देकर गैंग उसे ब्लैकमेल कर रहा था। वह तीन साल में करीब 80 लाख रुपये गंवा चुका है। गुजरात पुलिस गाजियाबाद आई तो यहां की पुलिस गैंग तक पहुंची।

दोनों फ्लैट से यह सामान हुआ बरामद
पुलिस ने दोनों फ्लैट में छापामारी कर चार मोबाइल, एक चेक, तीन चेकबुक, दो पासपोर्ट, तीन एटीएम कार्ड, तीन पैन कार्ड, छह वेब कैमरे, तीन आधार कार्ड, छह लैपटॉप, पांच फेस मास्क, दो जोड़ी पायल, एक कमर गुच्छा, एक ईयर रिंग, एक अंगूठी, आठ हजार रुपये और आपत्तिजनक सामान बरामद हुए हैं।