मसाज सेंटर की आड़ में चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा, व्हाट्स एप से होती थी बुकिंग

नोएडा । राजेश शर्मा ।

गौतमबुद्ध नगर पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने सेक्टर-49 के गेस्ट हाउस में चल रहे देह व्यापार का खुलासा किया है। पुलिस ने गेस्ट हाउस में छापा मारकर तीन संचालकों को गिरफ्तार किया है। कार्रवाई के दौरान मैनेजर फरार हो गया। मामले में तीन युवतियों को भी हिरासत में लिया गया है। पुलिस के मुताबिक, आरोपी मसाज सेंटर के नाम पर व्हाट्स एप से बुकिंग कर देह व्यापार कराते थे। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान हमीरपुर निवासी अनुराग, दानवेंद्र और भिंड मध्य प्रदेश निवासी शैलेंद्र यादव के रूप में हुई है। डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने बताया कि बृहस्पतिवार को एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की टीम ने सेक्टर-49 में एक गेस्ट हाउस में छापा मारकर देह व्यापार कराने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। तीनों आरोपी क्राउन स्टे नामक गेस्ट हाउस में देह व्यापार करा रहे थे। मौके से सेक्टर-51 निवासी अर्जुन फरार हो गया, जो मैनेजर बताया जा रहा है।

डीसीपी ने बताया कि मौके से तीन युवतियों को हिरासत में लिया गया है। पूछताछ में युवतियों से जबरन देह व्यापार कराए जाने की बात सामने आई है। तीनों युवतियां दिल्ली एनसीआर की हैं, जिन्हें वन स्टॉप सेंटर भेज दिया गया है। पूछताछ में पता चला है कि व्हाट्स एप और अन्य ऑनलाइन माध्यमों से युवतियों की तस्वीरें ग्राहकों के पास भेजी जाती थी। डील होने के बाद आरोपी उन्हें गेस्ट हाउस में लेकर आते थे। जहां उसने 3000 रुपये लिए जाते थे। इनमें 1000 रुपये युवतियों को दिए जाते थे।

किराये पर लिया था गेस्ट हाउस
पुलिस पूछताछ में पता चला है कि फरार आरोपी अर्जुन ने किराये पर गेस्ट हाउस लिया था। यहां करीब तीन माह से मसाज सेंटर की आड़ में देह व्यापार कराया जा रहा था।